राहुल गाँधी के हेलिकॉप्टर को पूर्णिया में उतरने की नहीं मिली अनुमति, जानिए इसके पीछे की वजह को जिलाधिकरी ने बताया।

0
220

पटना, बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने अपने स्टार प्रचारकों से चुनावी प्रचार के लिए अपनी पूरी जोर लगा दी है। अपनी सरकार बनाने के लिए स्टार पर्चारक धमाकेदार रैली के साथ वोटरों का मन अपनी तरफ आकर्षित कर रहे हैं ।

इसी बिच महागठबंधन की ओर से कांग्रेस के स्टार प्रचारक राहुल गाँधी गुरुवार शाम हेलीकाप्टर से पूर्णिया पहुंचे इसी क्रम में एक रिपोर्ट आई की राहुल गांधी के हेलीकॉप्टर को पूर्णिया में उतरने की इजाजत नहीं दी गई है। बताया जा रहा है की वहां पर राहुल गाँधी का एक कार्यक्रम होना है।

इसको लेकर पूर्णिया के जिलाधिकारी राहुल कुमार ने सफाई देते हुए कहा है कि, ‘ट्रांजिट प्रोग्राम (पूर्णिया में राहुल गांधी की रैली) पूर्णिया एयरफोर्स स्टेशन में 23 अक्तूबर को निर्धारित किया गया था।

सुरक्षा प्रोटोकॉल और एएसएल की बैठक के अनुसार तैयारी शुरू हुई। 22 तारीख को, हमें संशोधित कार्यक्रम के बारे में सूचित किया गया, जिसमें पूर्णिया को ट्रांजिट (पारगमन) के तौर पर शामिल नहीं किया गया। राहुल कुमार ने आगे कहा कि, ‘पूर्णिया एयरफोर्स स्टेशन जिला प्रशासन के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है।

लैंडिंग के लिए अनुमति न तो प्रशासन से ली गई थी और न ही इसके लिए कोई आवेदन जमा कराया गया था। इसलिए लैंडिंग की अनुमति न देने का कोई सवाल ही नहीं उठता है।

आपको बता दें कि इससे पहले मीडिया रिपोर्ट में बताया गया था कि राहुल गांधी की पूर्णिया में कोई रैली नहीं है। यहां सिर्फ ट्रांजिट प्रोग्राम है, जिसमें उन्हें यहां फ्लाइट से आना है और हेलीकॉप्टर से रैली के लिए जाना है। हवाई अड्डे पर रनवे का काम चल रहा है। ऐसे में इसे डायवर्ट कर दिया गया है। पूर्णिया में पांच मिनट का स्टॉपेज था जो अब दूसरे हवाई अड्डे पर होगी। गांधी की रैली जहां पहले होनी थी वो अब भी वहीं हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here